Insaan Ki Pehchan Shayari इंसान की पहचान शायरी Insaan Ki Pehchan Shayari

Insaan Ki Pehchan Shayari, इंसान की पहचान शायरी, Insaan Ki Pehchan Shayari, Best Love Shayari, Best Love Shayari Images, Love Shayari In Hindi, Hindi Love Shayari Photo, Best Love Shayari, Hindi Love Shayari pic, शायरी, Hindi Shayari, लव शायरी, Shayari In Hindi

Best Love Shayari

कर्मो से ही पहेचान होती है इंसानो की.

महेंगे कपडे तो पुतले भी पहनते है दुकानों में !!

Best Love Shayari Images

रास्ता भी वही से शुरू होता है मेरा जहाँ आप होते हो,
नजरे भी वही तक जाती है मेरी जहाँ तक आप होते है,
यूँ तो हजारो फूल खिलतें है लेकिन,
महक वहीं तक होती है जहाँ तक आप होते हो।

999 Hindi Lyrics (हिंदी गाने) Read Best Lyrics In Hindi999 Hindi Captions (हिंदी कैप्शन) Read Best Captions In Hindi
Famous Authors Quotes 999 About Friendship, Life, Love999 Hindi Poetry (हिंदी कविता) Read Best Poetry In Hindi
999 Hindi Poem (हिंदी कविता) Read Best Poem In Hindi999 Hindi Paheliyan (हिंदी पहेलियाँ) Read Best Paheliyan In Hindi

Love Shayari In Hindi

होले होले से मेरे दिल में आ कर उतर गये,
जैसे मेरी सांसो में खुशबु बन कर बिखर गये।
तेरे प्यार का जादू इस कदर चढ़ा है,
जहाँ भी मई देखूं बस तुम ही तुम नजर आते हो।

Hindi Love Shayari Photo

तेरे दीवाने हो गये है इससे इंकार नही करते,
हम कैसे कह दे के तुझसे हम प्यार नही करते,
कुछ तेरी झील सी आँखों की भी शरारत थी,
वरना ये गुनहा हम अकेले ही नही करते।

Best Love Shayari

तेरी मोहब्बत, तेरी वफ़ा, तेरा इरादा सिर्फ तू जाने,
मै करता हूँ सिर्फ तुझसे मोहब्बत ये मेरा खुदा जाने।

Hindi Love Shayari pic

आप इतना मुस्कुराते हो कहीँ फूलो को न खबर हो जाये,
आपकी अदाएं भी कुछ ऐसी है कहीँ उनकी नजर न हो जाये।

शायरी

तेरे दीदार को निकलते है तारे,
तेरी महक से छा जाती है बहारे,
तेरे साथ दिखते हैं कुछ ऐसे नजारे,
अब तो चाँद भी तुझे छुप छुप के निहारे।

Hindi Shayari

जाने क्यों तेरी याद आने लगती है,
मेरे होठो पे क्यों ये बात आने लगती है,
जो कभी तन्हाइयो में बैठने लगते हैं,
तब वो पहली मुलाकात याद आने लगती है।

लव शायरी

चाहे कितने भी विज़ि हो जाओ तुम अपनी ज़िन्दगी में,
एक पल को तो याद आती होगी तुम्हे अपनी ज़िन्दगी में।

Shayari In Hindi

न मेरा दिल बुरा था,
न दिल में बुराई थी,
ये तो सब नसीब की बात है,
जो नसीब में ही जुदाई थी।

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *