Guru Arjan Dev Martyrdom Shayari in Hindi

Guru Arjan Dev Martyrdom Shayari in Hindi

Guru Arjan Dev Martyrdom Shayari in Hindi

ईश्वर की कृपा से, मैं अहंकार के रोग से ठीक हो गया हूँ, और मृत्यु अब मुझे डराती नहीं है।

By the Grace of God, I am cured of the disease of egotism, and death no longer terrifies me.

Guru Arjan Dev Martyrdom Shayari

किसी से दुश्मनी मत करो क्योंकि भगवान सबके भीतर है।

Don’t create enmity with anyone as God is within everyone.

999 Hindi Lyrics (हिंदी गाने) Read Best Lyrics In Hindi999 Hindi Captions (हिंदी कैप्शन) Read Best Captions In Hindi
Famous Authors Quotes 999 About Friendship, Life, Love999 Hindi Poetry (हिंदी कविता) Read Best Poetry In Hindi
999 Hindi Poem (हिंदी कविता) Read Best Poem In Hindi999 Hindi Paheliyan (हिंदी पहेलियाँ) Read Best Paheliyan In Hindi

Guru Arjan Dev Martyrdom Shayari images

हे यहोवा, तू मेरे पिता है और तू मेरी माता है। आप मेरी आत्मा और जीवन को शांति देने वाले हैं।

Thou O Lord, art my father and thou my mother. Thou art the giver of peace to my soul and very life.

Guru Arjan Dev Martyrdom images

सभी धर्मों में सबसे अच्छा धर्म है भगवान का नाम जपना और पुण्य कर्म करना। सभी धर्म संस्कारों में श्रेष्ठ संस्कार संतों की संगति से दुष्ट बुद्धि के मैल को दूर करना है।

Of all the religions, the best religion is to repeat God’s name and to do pious deeds. Of all the religion rites, the best rite is to remove the filth of evil intellect by association with the saints.

Guru Arjan Dev Martyrdom

वह जो अपने मन को सभी पुरुषों के चरणों की धूल में गिरा देता है, वह हर दिल में भगवान के नाम को देखता है।

He who lowers his mind to the dust of all men’s feet, sees the name of God enshrined in every heart.

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *